गैंग्स ऑफ राजस्थान…:गैंगस्टर संपत नेहरा ने चूरू के हिस्ट्रीशीटर को मारने के लिए जेल से ही दो शार्प शूटरों को दी सुपारी, हथियार भी दिलवाए

0
आज गैंगस्टर संपत नेहरा को कोर्ट में पेश किया गया था- फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
आज गैंगस्टर संपत नेहरा को कोर्ट में पेश किया गया था- फाइल फोटो।

चूरू टाइम्स,चूरू। हिस्ट्रीशीटर प्रदीप स्वामी की हत्या के मामले में पुलिस ने आज गैंगस्टर संपत नेहरा को कोर्ट में पेश किया। ऑनलाइन पेशी के दौरान गैंगस्टर को दो दिन के रिमांड पर लिया गया। पूछताछ में नेहरा ने हिस्ट्रीशीटर की हत्या करवाना कबूल किया है। पेशी से पहले महिला पुलिस थाना में मेडिकल टीम बुलाकर नेहरा का मेडिकल मुआयना करवाया।

सादुलपुर डीएसपी बृजमोहन असवाल ने बताया कि संपत नेहरा फरवरी में पंजाब की होशियारपुर​​​​​​​ जेल में बंद था। जेल में रहते हुए ही प्रदीप स्वामी की हत्या के लिए दो शूटरों को हायर कर हथियार उपलब्ध करवाए थे। गैंगस्टर जिले के तीन मामलों में मोस्ट वांटेड था।

बदले की लड़ाई में हिस्ट्रीशीटर का मर्डर
हमीरवास पुलिस थानाधिकारी संजय पूनिया ने बताया कि प्रदीप हत्याकांड को वर्चस्व व बदले की लड़ाई से जोड़कर देखा जा रहा हैं। पांच फरवरी 2021 को संपत नेहरा के शार्प शूटरों ने ढाणी मौजी के रहने वाले स्वामी की हत्या की थी। फायरिंग के दौरान दो ग्रामीण निहाल सिंह व ईश्वर नाई की भी मौत हो गई थी।

जैतपुरा को कोर्ट में घुसकर मारा था
थानाधिकारी ने बताया कि हरियाणा के गांव केहर की ढाणी निवासी अनिल का एनकाउंटर 25 जून 2015 को हुआ था। एनकाउंटर में अजय जैतपुरा की भूमिका रही थी। एनकाउंटर के बाद से ही अनिल जाट गिरोह के सदस्यों से अजय की रंजिश चल रही थी। अनिल जाट गिरोह के तार संपत नेहरा गैंग से जुड़े हुए थे। इसके बाद 17 जनवरी 2018 को संपत नेहरा गैंग के बदमाशों ने सादुलपुर कोर्ट में घुसकर जय जैतपुरा की गोली मारकर हत्या कर दी थी। जैतपुरा की मौत के बाद स्वामी गैंग का संचालन कर रहा था।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें