चूरू: 3 दिन बाद तय होगा,किसानों को कब-कितने दिनों के अंतराल में मिलेगा सिंचाई के लिए पानी, नहरों से पीने व सिंचाई के लिए पानी को लेकर कलेक्टर ने मीटिंग ली

0

चूरू टाइम्स,चूरू। कलेक्टर सांवरमल वर्मा की अध्यक्षता में हुई बैठक में जिले से जुड़ी विभिन्न नहरों से पीने व सिंचाई के लिए पानी की व्यवस्था को लेकर चर्चा की गई। बारिश के बाद नहरों में आए पानी की क्षमता व आगामी दिनों में होने वाली खपत को लेकर भी चर्चा की गई।

कलेक्टर ने कहा कि नहरों में पानी की क्षमता के अनुसार ही पेयजल व सिंचाई के लिए दिए जाने वाली पानी की सुनिश्चितता की जाए। संबंधित अधिकारियों से समन्वय बनाकर काम करें। आईजीएनपी एक्सईएन कृष्ण कुमार सांगवान ने बताया कि इंदिरा गांधी नहर के तहत कुंभाराम आर्य लिफ्ट कैनाल से जुड़े किसानों को रबी फसल के तहत तीन बार अंतराल में सिंचाई के लिए पानी दिया जा सकता है। किसानों को पानी कब और कितने अंतराल में मिलेगा, इसको लेकर हनुमानगढ़ में संबंधित अधिकारियों की बैठक होनी है, जिसके बाद रणनीति बनाई जाएगी। वैसे 15 अक्टूबर के आसपास किसानों को पहली बार सिंचाई के लिए पानी दिया जा सकता है।

सांगवान ने बताया कि पेयजल के लिए नहर के डेम में 1390 फीट तक पानी जमा हो सकता है, अभी 1352 फीट पानी है। अभी मानसून सक्रिय है, डेम में पानी की आवक बढ़ती है। डेम में 1370 फीट तक पानी का लेवल हो जाता है, तो किसानों को पांच से छह बार सिंचाई के लिए पानी मिल सकता है। इंदिरा गांधी नहर से तारानगर क्षेत्र के करीब 27500 हैक्टेयर में सिंचाई की जाती है। बैठक में जलदाय विभाग, डिस्कॉम, सानिवि सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें