शादी के 4 महीने बाद ही पति-पत्नी ने खाया जहर:रखवाली के लिए दोनों खेत पर अकेले रह रहे थे, गांव में था परिवार; पेस्टीसाइड पीने से हुई मौत

0
मृतक सोहन लाल और अन्नूदेवी। - Dainik Bhaskar
मृतक सोहन लाल और अन्नूदेवी।

चूरू टाइम्स,बीकानेर। बीकानेर के नोखा तहसील में सुरपुरा गांव में पति-पत्नी का शव मिला है। दोनों का विवाह महज चार महीने पहले हुआ था। मौत जहर खाने से हुई है। लेकिन जहर खाने की वजह साने नहीं आई है। नोखा पुलिस मामले की हर एंगल से जांच कर रही है। पीबीएम अस्पताल में फिलहाल दोनों शवों का पोस्टमार्टम किया जा रहा है। घटना के बाद से गांव में पूरी तरह सन्नाटा है।

नोखा थानाधिकारी ईश्वरचंद जांगिड़ ने बताया कि सुरपुरा गांव की ढाणी में पति सोहन लाल व पत्नी अन्नुदेवी मेघवाल साथ में रहते थे। चार महीने पहले विवाह के बाद से ही दोनों यहां आराम से रह रहे थे। रविवार रात दोनों ने जहर खा लिया, जिससे उनकी मौत हो गई। मृत्यु के कारणों का पता लगाया जा रहा है। अभी ये स्पष्ट नहीं हुआ है कि सुसाइड किया या दुर्घटनावश दोनों ने जहर पी लिया। परिजनों से अभी पूछताछ नहीं की गई है। ये माना जा रहा है कि पेस्टीसाइड पीने के कारण दोनों की मौत हो गई।

परिजनों ने बताया कि दोनों खेत पर अकेले रहते थे। परिवार के बाकी सदस्य गांव में थे। रखवाली के लिए ही दोनों खेत में थे। जब देर रात कुछ लोग खेत में पहुंचे तो बेहोश मिले। जिन्हें बीकानेर के पीबएम अस्पताल में भर्ती करवाया गया। इलाज के दौरान दोनों की मौत हो गई।

चार महीने पहले हुई थी शादी।

चार महीने पहले हुई थी शादी।

विवाद हो सकता है वजह

दोनों की मौत का कारण कोई विवाद भी हो सकता है। पुलिस ये भी पता लगा रही है कि दोनों के बीच संबंध किस तरह के थे। परिवार से कैसे रिश्ते थे। मृतकों के पास किसी तरह का कोई सुसाइड नोट भी नहीं मिला है। सबसे पहले तो यह ही पता लगाया जा रहा है कि इन दोनों ने जानबूझकर पेस्टीसाइड पिया है या फिर गलती से।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें